एक ग़रीब नेपाली चौकीदार का बेटा कैसे बना भारत का 48वां सबसे अमीर शख़्स, जानिए पूरी कहानी

0
19360

कुछ असल ज़िन्दगी के किरदार ऐसे होते हैं, जिनकी कहानियाँ फिल्मों की काल्पनिक कहानी को भी मात दे देती है। ऐसी ही कहानी है योगगुरू बाबा रामदेव के सहयोगी आचार्य बालकृष्ण की। फोर्ब्स के मुताबिक आज बालकृष्ण भारत के 48वें सबसे अमीर व्यक्ति हैं।

आइए जानते हैं आचार्य की जिंदगी का पूरा सफ़र।

 बचपन मुफ़लिसी में बीता

1

आचार्य बालकृष्ण का जन्म साल 1974 में हरिद्वार के एक नेपाली परिवार में हुआ था। उस दौरान बालकृष्ण के पिता बतौर चौकीदार काम किया करते थे। आचार्य का वास्तविक नाम नारायण प्रसाद सुवेदी है।बालकृष्ण ने अपनी प्राथमिक शिक्षा नेपाल में ही हासिल की है।

गुरुकुल में मिले थे रामदेव-बालकृष्ण

2

यह बात करीब 3 दशक पहले की है, जब बालकृष्ण हरियाणा के खानपुर के एक गुरुकुल में पढ़ाई कर रहे थे। उसी दौरान उनकी मुलाकात योगगुरू बाबा रामदेव से हुई। आज बाबा रामदेव के सबसे नज़दीकी सहयोगी हैं बालकृष्ण।

LEAVE A REPLY