ये जवान वीरगति प्राप्त करने के बाद भी कर रहा है इंडियन बॉर्डर पर पहरेदारी, मिलिए इंडियन आर्मी के इस शहीद से !

0
14640

अब लोग मंदिर में इनकी समाधि के दर्शन करने के लिए 14000 फीट की ऊंचाई पर संकरे रास्‍ते पर रेंगते हुए गाड़ी को लेकर आते हैं। इतनी खतरनाक रास्‍ता होते हुए भी लोग इतनी ऊंचाई पर दर्शन करने के लिए बड़ी संख्‍या में दूर-दूर से आते हैं। कई लोग तो बीमारी की हालत में यहां चमत्‍कार देखने और मन्‍नत मांगने भी आते हैं। उनका मानना है कि यहां मांगी जाने वाली मन्‍नत जरूर पूरी होगी। उनकी समाधि के बारे में मान्यता है कि यहां पानी की बोतल कुछ दिन रखने पर, उसमें चमत्कारिक गुण आ जाते हैं। इसका 21 दिन सेवन करने से श्रद्धालु अपने रोगों से शत-प्रतिशत छुटकारा पा जाते हैं।