शो पर विवाद, 10 साल के बच्चे की पत्नी बनने पर ये बोली एक्ट्रेस…

0
2229

दीया के किरदार में टीवी एक्ट्रेस तेजस्विनी प्रकाश नजर आएंगी। इससे पहले ये स्वरागिनी में भी दिख चुकी हैं।सोनी चैनल पर जल्द ही ‘पहरेदार पिया की’ शुरू होने वाला है। पर शो के टेलिकास्ट होने से पहले ही इस पर ऑब्जेक्शन उठाया जा रहा है, क्योंकि इसमें 18 साल की लड़की और 10 साल के लड़के की शादी दिखाई गई है। दीया के किरदार में तेजस्विनी प्रकाश नजर आएंगी, जो ‘स्वरागिनी’ में भी दिख चुकी हैं। DainikBhaskar.com ने तेजस्विनी से जानना चाहा कि इस शो में उनका क्या किरदार है? इसके लिए वो क्या खास तैयारी कर रही है? ऐसे ही कई और सवाल भी किए गए। पेश है बातचीत के कुछ अंश…

 

1. तेजस्विनी ‘पहरेदार पिया की’ में आप एक छोटे बच्चे की पत्नी के किरदार में हैं। अपने इस किरदार के बारे में क्या कहेंगी?

मैं इस सीरियल में दीया का किरदार निभा रही हूं, जो रतन सिंह की बेस्ट फ्रेंड होती है। किन्हीं कारणों के चलते उसे रतन से शादी करनी पड़ती है। जबकि दोनों को ही शादी का मतलब नहीं पता है। उन दोनों के बीच पति-पत्नी का नहीं, बल्कि बेस्ट फ्रेंड का रिलेशन है। रतन बहुत बड़ी जायदाद का मालिक है, इसलिए उसे घर में ही छिपे दुश्मनों से खतरा है। ऐसे में दीया रतन की मूक संरक्षक के रूप में उसका साथ देती है, जो समाज की घिसी-पिटी सोच को छोड़कर सशक्त रूप में सामने आती है। दूसरे शब्दों में कहूं तो मैं अपने पिया की पहरेदार हूं यानी मैं मर्द से ज्यादा पावरफुल हूं।

 

2. कहा जा रहा है इसमें आपने वुमन पावर को दर्शाया है और औरतों के लिए अंधविश्वासी और पुराने रीति-रिवाजों का विरोध किया है?

हां, अगर हम राजस्थान या किसी और जाति के छोटे शहरों में जाएं तो वहां पर औरतों के लिए बहुत सारे रिवाज हैं, जैसे एक छोटा-सा रिवाज सिर पर घूंघट लेना। इस बारे में मैंने इसका विरोध करते हुए कहा है कि अगर मैं रतन के माता-पिता के सामने घूंघट लूंगी तो रतन को भी मेरे माता-पिता के सामने घूंघट लेना होगा। इस सीरियल के जरिए मैंने रीति-रिवाज के नाम पर औरतों पर होने वाले अत्याचार का विरोध किया है, जो अब बहुत जरूरी है।

3. प्रोमोज में देखा गया है कि एक दस साल का बच्चा आपको सिंदूर लगा रहा है?

वो भी बचपन का स्टाइल है। दरअसल, मैं उसे टीका लगाती हूं राजा साहब होने की वजह से तो वह भी बदले में मुझसे टीका लगाता है सिंदूर के स्टाइल में। उस वक्त उसको भी नहीं पता कि वो क्या कर रहा है। सीरियल मे मैं 18 साल की हूं और रतन 10 साल का है तो दोनो को ही नहीं पता कि शादी का मतलब क्या होता है। इसमे रोमांस का एंगल नहीं है, बल्कि इसमें सच्ची दोस्ती का पुट है। अगर मैं सही शब्दों में कहूं तो इस सीरियल के जरिए औरतों के लिए एक अच्छा मैसेज देने की कोशिश की गई है, खासकर जिस तरह के आज हालात चल रहे हैं, उसे ध्यान में रखकर।

4. पहरेदार पिया की में एक्टिंग के दौरान आपको क्या मुश्किल लगा?

इस सीरियल में हमें एक अलग तरह की राजस्थानी भाषा बोलनी है, जो हममें से किसी को भी नहीं आती। इसलिए हमारे लिए सेट पर एक ट्यूटर रखा गया है। वो हमें उस राजस्थानी स्टाइल में डायलॉग बोलना सिखाता है। बस वही थोड़ा मुश्किल लगता है, जैसे हम नमस्ते बोलते हैं तो राजस्थानी भाषा में खंबा धंडी बोला जाता है।

अगले पेज में पढ़ें  8 और सवाल-जवाब…

1
2
3
SOURCEBollywood Bhaskar

LEAVE A REPLY