150 साल से घर के पीछे दबे थे 8 मटके, अंदर छिपा था करोड़ों का खजाना..

0
344

कपल को पता ही नहीं था कि जिस घर में वो रह रहे थे, उसके पीछे पेड़ के नीचे करोड़ों का खजाना सालों से दबा हुआ था

आपने कई ऐसे लोगों के बारे में पढ़ा होगा, जिनकी किस्मत ने पल भर में पलटी खाई और देखते ही देखते वो करोड़ों के मालिक बन गए। लेकिन इसके लिए जरुरी नहीं कि आप लॉटरी टिकट खरीदें। कई बार बस अपने आसपास तेज नजर रखने की जरूरत होती है। अब इस कपल को ही ले लीजिए। इनके घर के पीछे मौजूद पेड़ के नीचे डेढ़ सौ सालों से करोड़ों का खजाना गड़ा था लेकिन इन्होंने कभी इस और ध्यान ही नहीं दिया !

अचानक पड़ी नज़र और उड़ गए होश 
पिछले साल फरवरी में इस कपल ने काफी सुर्खियां बटोरी थी। कैलिफोर्निया में रहने वाला ये कपल कई साल से इस घर में रह रहा था। एक दिन अचानक अपने कुत्ते को टहलाते हुए इनकी नजर घर के पीछे पेड़ के नीचे छिपी किसी चीज पर पड़ी। वैसे तो अभी तक वो उस जगह से कई बार गुजर चुके थे लेकिन कभी उन्होंने इस तरफ ध्यान नहीं दिया था। उन्होंने पास जाकर मिट्टी हटाई। उन्होंने देखा कि वहां आठ एल्युमिनियम की कैन दबी हुई थी।

उन्होंने इन मटकों को बाहर निकाला और जब अंदर देखा तो उनकी हैरानी का ठिकाना नहीं रहा। इनके अंदर सोने के सिक्के गीली मिट्टी के अंदर दबे हुए थे। कपल ने तुरंत मटकों को बाहर निकाला और घर ले आए। उन्होंने सच जानने के लिए लोकल एक्सपर्ट्स को बुलाया।

150 साल से दफ़न थे ये सिक्के 
एक्सपर्ट्स ने कपल को बताया कि ये सिक्के उस जगह करीब 150 सालों से दफन थी। इनमें से कुछ सिक्के अब काफी रेयर हो चुके हैं। उन्होंने बताया कि घर के पुराने मालिक ने शायद इन्हें फ्यूचर के लिए दफनाया होगा लेकिन फिर भूल गए होंगे।

ये निकला मटके से 
कपल को मिले मटके से करीब 1,427 सिक्के मिले। ये सिक्के 1847 से 1894 के बीच के थे। कपल को उम्मीद थी कि इससे वो करोड़ों रुपए कमा लेंगे लेकिन उन्हें बताया गया कि इनकी कुल कीमत करीब 17 लाख 26 हजार है। हालांकि, इन सारे सिक्कों में कुछ ऐसे सिक्के भी थे, जिनकी अकेले की कीमत करीब 6 करोड़ थी। इस कपल ने सिक्कों को बेच दिया। लेकिन उन्होंने अपनी पहचान छिपा कर रखने का फैसला किया। ताकि लोग और ज्यादा खजाने की तलाश में उनके घर का चक्कर न काटने लगे.

LEAVE A REPLY