कर दें ये 3 सेटिंग, मोबाइल नहीं होगा हैंग, बैटरी नहीं होगी Low !

0
2323

स्मार्टफोन की तीन बेसिक प्राॅब्लम हैं – बैटरी की खपत ज्यादा होना, फोन हैंग होना और वायरस अटैक होना। आज हम आपको फोन (एंड्रॉइड स्मार्टफोन) की तीन ऐसी सीक्रेट सेटिंग्स के बारे में बता रहे हैं, जिन्हें करने के बाद आप इन तीनों प्रॉब्लम्स से बच सकते हैं।

1. बैटरी को बचाने वाली Setting

इस सेटिंग से आप फोन की बैटरी बचा सकते हैं। फोन की Settings में जाएं। यहां आपको Developer option में जाना होगा। अगर आपने फोन में Developer ऑप्शन ओपन नहीं किया है तो पहले उसे ऑन करना होगा। इसके लिए सेटिंग में About Phone में जाकर Build Number पर 7 बार टैप करें। Developer ऑप्शन ऑन हो जाएगा। अब Developer में जाकर Running Services पर टैप करें। टैप करते ही एक लिस्ट ओपन होगी, जिसमें फोन में चल रहे सारे रनिंग Apps शो होंगे, जिनसे लगातार फोन की बैटरी की खपत होती रहती है। यहां आप वो टाइम भी देख सकते हैं, जबसे ये ऐप फोन में रन कर रहे होते हैं।

यहां आपको कुछ ऐसे ऐप्स भी दिखाई देंगे, जिनका आपके लिए कोई यूज नहीं है, फिर भी ये फोन में रन कर रहे होते हैं। उन ऐप्स को सिलेक्ट कर उन पर टैप करें। यहां आपको Stop का ऑप्शन दिखाई देगा। उस पर टैप कर दें। इससे आपके फोन की बैटरी की खपत कम होगी और वह ज्यादा चलेगी।

2. फोन को हैंग होने से बचाने वाली Setting  

जब भी आप फोन में गेम खेलते हैं, फोन हैंग होने लगता है। इससे बचने के लिए आपको फोन में एक सेटिंग करनी होगी। इसके लिए फोन के Developer ऑप्शन में जाएं। यहां आपको नीचे की तरफ Force 4X MSAA ऑप्शन दिखाई देगा। उसको ऑन कर दें। अब गेम खेलते वक्त आपका फोन हैंग नहीं होगा।

3. फोन कितना सेफ है, इस सेटिंग से करें पता 

फोन कितना सेफ है, यह पता करना बहुत जरूरी है। फोन सेफ होने पर इसमें वायरस नहीं आ पाते, साथ ही ये हैक नहीं हो सकता। इसके लिए आपको फोन के प्ले स्टोर में जाना होगा। play store में जाकर तीन लाइन पर टैप करें। अब Settings में जाएं। नीचे की तरफ आपको device certification का ऑप्शन दिखाई देगा। अगर यहां Certified लिखा हुआ है तो आपका फोन सेफ है। फोन सर्टिफाइड होने पर उसमें वायरस अटैक नहीं होगा। ये सर्टिफिकेशन गूगल की तरफ से दिया जाता है। Certified पर टैप कर आप इससे रिलेटेड जानकारी मिल जाएगी। यहां उन स्मार्टफोन कंपनियों की लिस्ट भी मिल जाती है, जिन्हें गूगल ने सर्टिफाइड किया है।

LEAVE A REPLY