लड़की का अाखिरी खत, ‘मैं दीपकजी के बिना नहीं जी सकती हूं’, दिवाली के बाद होने वाली थी शादी !

0
879

एमपी के जावरा में एक लड़की ने की तीसरी मंजिल में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। ढाई महीने पहले सड़क हादसे में मंगेतर की मौत से दु:खी होकर लड़की ने ये कदम उठाया। लड़की ने सुसाइड नोट में लिखा कि ‘दादी, मैं दीपकजी (मंगेतर) के बिना नहीं जी सकती हूं। इसलिए मैं उनके पास जा रही हूं। उल्लेखनीय है कि दीवाली के बाद दोनों की शादी होने वाली थी।

ये है पूरा मामला – सिटी थाना प्रभारी एस.सी. शर्मा ने बताया इकबालगंज निवासी खुशबू पिता माणक गेहलोत (21) ने अपने ही घर की तीसरी मंजिल पर फांसी लगा ली। वह कॉलेज में स्नातक की पढ़ाई कर रही थी। जांच में पुलिस को उसके कमरे से एक पेज का सुसाइड नोट मिला। जो उसने दादी को लिखा था।

LEAVE A REPLY