हीरोपुक से चलने वाला प्यून आज रखता है मर्सडीज, ऐसे बदली इनकी LIFE

0
438

स्टैंड अप कॉमेडियन राजीव ठाकुर हाल ही में अपने नए शो ‘तेरा बाप मेरा बाप’ के प्रमोशन के लिए लखनऊ में थे। इस विजिट के दौरान उन्होंने मजाकिया अंदाज में अपनी लाइफ की स्ट्रगल को बयां किया।

चपरासी थे राजीव, यूं निकाले गए थे नौकरी से
अपना स्ट्रगल बताते हुए राजीव कहते हैं, “घर की हालत देखते हुए मैंने 10वीं पास करते ही पार्ट टाइम जॉब तलाशना शुरू कर दी थी। पहली जॉब मुझे एक चपरासी की मिली। मेरी सैलरी 6-7 हजार रुपए तय हुई थी।”
“मैं बहुत खुश था, लगा कि अच्छे दिन आएंगे। मेरे घर फ्रिज नहीं था। मैंने सोचा तीन महीने की सैलरी से फ्रिज तो खरीद ही लूंगा। किस्मत से पहले ही वीकॉफ पर मैं बीमार पड़ गया और उन्होंने मेरी जगह किसी और को रख लिया। मेरे सपने वहीं टूट गए।”

LEAVE A REPLY