6 महीने की मासूम के सामने मां-पिता-भाई की मौत, नौकरानी की गोद ने बचाई जिंदगी

0
384

लुधियाना/जगराओं.लुधियाना-फिरोजपुर रोड पर चंडीगढ़ के एक एडवोकेट की आई-20 कार डिवाइडर क्रॉस कर सामने से आ रहे ट्रक से टकरा गई। इस हादसे में एडवोकेट सुदर्शन पुंची, उनकी पत्नी सीमा और साढ़े तीन साल के बेटे ध्रुव की मौके पर ही मौत हो गई। पीछे वाली सीट पर बैठी नौकरानी काजल (28) गंभीर रूप से घायल हो गई थी, जिसकी हॉस्पिटल में मौत हो गई। बता दें कि नौकरानी की गोद में बैठी वकील की 6 महीने की बेटी ध्वनि को खराेंच तक नहीं आई।

झपकी लगने के कारण हुआ एक्सीडेंट…एडवोकेट सुदर्शन अपनी पत्नी सीमा के मामा अशोक कुमार की अंतिम अरदास में शामिल होने के लिए पांच लोग सुबह छह बजे के करीब चंडीगढ़ से फरीदकोट के लिए फैमिली समेत निकले थे। गाड़ी एडवोकेट खुद चला रहे थे और साथ वाली सीट पर पत्नी सीमा बेटे ध्रुव को लेकर बैठी थीं। जबकि पीछे की सीट पर नौकरानी काजल उनकी बच्ची ध्वनि को लेकर बैठी थी। गाड़ी नानकसर कलेरां गुरुद्वारा क्रॉस करते ही मोगा से आ रहे एक शीतल पेय कंपनी के ट्रक से डिवाइडर क्रॉस कर टकरा गई। हादसे में अगली सीटों पर बैठे तीनों लोगों की मौत हो गई। SHO इंदरजीत सिंह और चौकी बस स्टैंड के इंचार्ज बलजिंदर सिंह के मुताबिक गाड़ी की स्पीड 100 से ज्यादा थी और हादसे की वजह ड्राइवर की आंख लगना है। ट्रक ढिल्लों कोल्ड ड्रिंक फिल्लौर का था, जो पेप्सी की डिलीवरी देकर मोगा से वापस लुधियाना आ रहा था। ट्रक बलविंदर सिंह चला रहा था। हादसे के बाद बलविंदर ट्रक छोड़ फरार हो गया।

LEAVE A REPLY