महिला दंगल देख साहस से भरी इस लड़की ने बीच सड़क पर किया ऐसा काम उड़ गए सबके होश

0
163

महोबा: सही कहा गया है कि फ़िल्में हमारे समाज का आईना होती हैं। फिल्मों में अक्सर वहीँ चीजें दिखाई जाती हैं, जो हमारे समाज में हो रही होती हैं। कई बार फिल्मों ने समाज को आईना दिखाने का भी काम किया है। कई फिल्मों के आने के बाद से समाज में काफी बदलाव हुआ है। आज इतने विकास के बाद भी समाज में कई तरह की बुराइयाँ फैली हुई हैं। उन बुराइयों पर लगाम लगाने का काम हमारी फिल्मों में बखूबी किया है। आज लोग लड़के-लड़की को एक ही जैसा समझते हैं, इसके पीछे फिल्मों का योगदान है।

कई बार आपने देखा होगा कि फिल्मों में कुछ नयी चीजें भी दिखाई जाती हैं, जिसे समाज के लोग अपनाते भी हैं। फिल्मों ने समाज को बदलने में भरपूर योगदान दिया है। हालाँकि कुछ जगहों पर फिल्मों की वजह से सामाजिक नुकसान भी हुए हैं। लेकिन इसके फायदों को देखा जाए तो नुकसान बहुत छोटा लगता है। कई फिल्मों को देखने के बाद अन्दर जोश भर जाता है। आज हम आपको फिल्म से जोश और साहस भरने की एक असली कहानी के बारे में बताने जा रहे हैं।

LEAVE A REPLY